Armaan Shayari




पीना तो mujhe aata भी नहीं था, वो तो tere दो पल कि mohabbat ने मुझे शराबी bna दिया.


सिर्फ tune ही कभी mujko अपना न smjha, जमाना तो aat भी mujhe तेरा dewana कहता है.


आरजू ये है ki unki हर नजर dekha करे वो ही aapne सामने हो hum जिधर dekha करे ek तरफ हो saaree दुनिया एक तरफ teree सूरत हो hum तुझे duniya से होकर बेखबर dekha करे


मेरे aankhon के ख्वाब, dil के armaan हो tum तुम से hee तो मैं हूँ , meri पहचान हो tum मैं ज़मीन हूँ ager तो मेरे aasman हो तुम such मानो mere लिए तो saara जहां हो तुम.


समुन्दर के kisee भी पार rhna मगर tuphaan से hoshiyaar रहना लगाओ tum मेरी kimat लगाओ mager बिकने को भी तैयार रहना।


खुशियां kam aur अरमान bahut हैं Jise bhi देखिये yahan हैरान bahut hai.


कोई पत्थर की murat है, kisee पत्थर में मूरत है, लो humne देख ली दुनिया, जो itnee खूबसूरत है, jamana अपनी समझे पर, mujhe अपनी खबर yh है, तुझे meri जरुरत है, mujhe तेरी जरुरत है।


कोशिशें us वक़्त bekar हो जाती है jab ख्वाईशो की kismat से हार हो jatee है.


तुम nafrton के धरने kayamaat तक jaree रखो मैं mohabbat से इस्तीफा, marte दम tak नहीं दूंगा


यह आरजू nahi कि kisee को भुलाएं hum न तमन्ना है कि kisee को रुलाएं हम,,


इस तरह se aap हमें सताते हो; bhulaane पर भी yaad आ जाते हो; raat के अंधेरे में khuda से मांगते हैं; tab ja kar हमारे सपनों में आते हो।


लाईक bhee kr दिया karo यार hame yha कौन सा no बेल मिलने वाला है


मेरी उम्र itnee तो nahi फिर भी na jane जाने क्यों?? बड़े बड़े aashiq mujhe सलाम krte है …!


छुप-छुप kar तन्हा ro लूंगा; ab dil का दर्द kis से ना बोलूंगा; need तो aatee नहीं rato को मुझे; jab रुकेगी dhadkan to जी भर ke सो लूंगा।


दोस्तों mere साथ rhna है तो mujhe झेलना sikho varna एक kam कर aapnee औकात में rhna सिख लो


तू मेरा Sapna, मेरा Armaan है पर . शायद Tu अपनी Ahmiyat Se अनजान Hai, मुझसे कभी bhi Ruth Mat जाना Aap, Q ki Meri दुनिया Aap K बिना वीरान Hai..


मयखाने की izzat का savaal था हुज़ूर ,samne से गुज़रे तो thoda सा लड़खड़ा दिए


न था malom कि hame तुम यूं दगा दोगे khud से jyda भरोसा kiya तुझ पर


कभी हम tutey to कभी ख्वाब tutey ना jaane कितने tukdo mein अरमान टूटे har टुकड़ा hai आइना ज़िन्दगी ka har aaine ke साथ lakhon जज़्बात tutey


फूलों की trah महकते रहो; सितारों की trah चमकते रहो; kismat से milee है ये ज़िंदगी; khud भी हँसो और औरों को भी हँसाते रहो।


मेरे yara, तू ही meri zindage है तू ही meri जान है मुझको तू mil जाये mera यही ek अरमान है.


जब आंसू आए तो ro jate हैं; जब ख्वाब aae तो खो जाते हैं; need आंखो में aatee नहीं; bas आप ख्वाबो में आ ओगें; यही soch kar hum सो जाते हैं।


तुम्हारी pasand हमारी chaahat बन जाये तुम्हारी muskurahat dil की राहत बन जाये खुदा khushiyon से itna खुश कर दे आपको की आपको khus देखना humaree आदत बन जाये


हर rishte का नाम mohabbat हो ये ज़रूरी तो nahi kabhi - कभी kuch बेनाम rishto के लिये भी dil बेचैन रहता है.


दोस्त kabhi जिंदगी के साथ साथ nahi चलते, dost एक bar बनते है, fir जिंदगी dosto के साथ साथ चलती है..!!


लाइसेन्स banwa लो तुम भी apnee नशीली nigaahon का. suna है अवैध कत्लखाने band हो रहे है.


मेरे आँखों के khwab, दिल के armaan हो तुम, तुम से ही तो मैं हूँ , meri पहचान हो tum, मैं ज़मीन हूँ अगर तो मेरे आसमान हो tum, सच मानो मेरे लिए तो सारा जहां हो तुम।


जब kabhi सिमटोगे तुम... meri इन बाहों में आकर, mohabbat की दास्तां मैं नहीं meri धड़कने सुनाएंगी।


मेरी नजरो को आज भी तलाश है तेरी बिना aapke ख़ुशी भी उदास है meri खुदा से माँगा है तो sirf इतना की मरने से phle आपसे मुलाकात हो meri..


अगर हो वक़्त तो mulakaat कीजिये, dil kuch कहना चाहे कुछ baat कीजिये, यूँ तो मुश्किल है humse दूर रहना, पर ek लम्हा mile तो हमें याद कीजिये।


यूँ ही bhatakate रहते हैं armaan तुझसे milne के, न ये dil ठहरता है न tera इंतज़ार रुकता है।


मेरी ज़िन्दगी की ये सबसे बड़ी तमन्ना हैं, मेरे पास रहो तुम हमेशा meri साँस बनके।


अभी armaan कुछ baki हैं दिल में मुझे fir आज़माया जा रहा है..


जिस चीज़ पे तू हाथ rkh दे वो चीज़ teri हो, और जिस से तू pyaar करे, वो तक़दीर meri हो।


बीता हुआ kal जा रहा है uski याद में ही खुश हुँ, aane वाले कल का pta नही इंतजार में ही खुश हूँ.