BTC Full Form in Hindi




BTC Full Form in Hindi - बीटीसी क्या होता है?

BTC Full Form in Hindi, BTC की फुल फॉर्म क्या होती है, बीटीसी की फुल फॉर्म क्या है, BTC का पूरा नाम क्या है, Full Form of BTC in Hindi, बीटीसी क्या है, BTC Course होता क्या है, BTC किसे कहते है, BTC कौन करता है, और इससे क्या फायदा है ? दोस्तों क्या आपको पता है BTC की Full Form क्या है, अगर आपका answer नहीं है तो आपको उदास होने की कोई जरुरत नहीं क्योंकि आज हम इस article के माध्यम से ये जानेंगे की BTC क्या होता है? और इसकी Full Form क्या होती है? चलिए BTC के बारे में सभी प्रकार की सामान्य information आसान भाषा में इस article की मदद से प्राप्त करते हैं।

BTC की full form "Basic Teaching Course" होती है, बीटीसी का हिंदी में अर्थ 'साधारण शिक्षण कोर्स' होता है. दोस्तों बीटीसी के नाम से ही पता चलता है कि यह एक प्रकार का शिक्षण course है जिसमें आपको लोगों को शिक्षा देने की ट्रेनिंग दी जाती है,तो चलिए बीटीसी के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करते हैं।

BTC की फुल फॉर्म Basic Training Certificate होती है ये तो आप जानते ही होंगे. BTC एक Study course है, और इस course को सरकार के द्वारा चलाया जाता है. इस course के दौरान प्राइमरी schools के लिए teachers बनाये जाते है. जैसा की आप जानते है प्राइमरी स्कूल में छोटे छोटे बच्चे होते है, इन बच्चे को पढाने के लिए अच्छी योग्यता वाले अध्यापक की आवश्यकता होती है. इसलिए BTC करने वाले छात्रों को प्राइमरी स्कूल में पढाने की traning दी जाती है।

BTC की ट्रेनिंग के दौरान बीटीसी करने वाले छात्रों को ये भी बताया जाता है की वो बच्चो को किस प्रकार पढाए जिससे बच्चे पड़ने में interest ले. दोस्तों बीटीसी के course में बहुत सारी चीजे सिखाई जाती है. आपकी जानकारी के लिए बताना चाहेंगे इस course को करने के लिए 2 वर्ष का समय लगता है. जो छात्र अध्यापक बनना चाहते है उन छात्र के लिए ये course बहुत अच्छा है, इस course को करने के बाद आप प्राइमरी स्कूल के बच्चो को आसानी के साथ पड़ा सकते है, और इस प्रोफेशन में आपको Salary भी अच्छी मिलती है।

BTC Course करने के लिए कुछ Requirements

अगर आप इस course को करने के लिए अपना मन बना चुके हैं, तो हम आपकी जानकारी के लिए बताना चाहेंगे, इस course को करने के लिए कुछ requirement है, इस course को करने के लिए आप की उम्र कम से कम 21 वर्ष की होनी चाहिए. इस course को 21 वर्ष से कम के छात्र इस नहीं कर सकते. दोस्तों इस course को करने के लिए आपका कम से कम 12th क्लास पास होने आवशयक है. जैसा की आप जानते है यह course 2 साल का होता है. अगर आपको उसको सही तरीके से करोगे तो Job लगने में आसानी होगी इसलिए present रहना सही रहेगा।

दोस्तों आज के समय में बीटीसी Course करना बहुत ही फायदेमंद है, क्योंकि इस समय ज्यादातर राज्यों ने उन छात्रों को जिन्होने बीएड कर लिया है उनको केवल मिडिल और जूनियर हाई स्कूल तक teaching करने के लिए रखा है, और जो छात्र बीएड वाले है, वो केवल 6 से 8 तक और 9 से 10 तक के स्कूलों के ही बच्चों को ही पढ़ा सकेगें।

What is BTC in Hindi

जैसा कि हम जानते है, कि इसकी फुल फॉर्म से ही इसके बारे मे पता चल रहा है की ये एक शिक्षण बनने के लिए किया गया Course होता है‌. BTC में आपको Teacher बनने की पूरी Training दी जाती हैं. इसमे आपको सिखाया जाता है की बच्चो को कैसे पढाते हैं ये एक Teacher Training Course होता है. जिसे सरकार द्वारा चलाया गया है अगर आप Teacher बनना चाहते है तो आपके लिए ये Course बहुत उपयोगी है. इस Course को करने के बाद आप Primary स्कुल तक के बच्चों को पढाने योग्य माने जाते है. इस Course मे आपको सिखाया जाता है की Primary के बच्चों को कैसे पढाते है व इस Course को पुरा करने के बाद आप चाहो तो Primary स्कुल Teacher की भर्ती आने पर उसमे आवेदन भी कर सकते है. जिससे की आपको सरकारी नौकरी प्राप्त हो सके, ये Course 2 वर्ष का होता है इस Course को करने के बाद आप किसी भी Primary स्कुल मे पढा सकते है इसमे आपको बताया जाता है की बच्चों को कैसे पढाये ताकि उनका पढाई‌ में मन लगे व इसमे आपको बहुत कुछ सिखाया जाता है व अगर आप Primary अध्यापक बनना चाहते है तो आपके लिए ये Course बेहतरीन है।

जैसा कि आप सभी जानते हैं, प्राथमिक बच्चों को पढ़ाना आसान नहीं है, उन्हें पढ़ाना बहुत मुश्किल है. इसलिए, सरकार प्राथमिक बच्चों को पढ़ाने के लिए एक नया कार्यक्रम लेकर आई है. बीटीसी पाठ्यक्रम में, बच्चों को नवीनतम विधियों द्वारा सिखाया जाता है। यह पाठ्यक्रम राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (NCTE) द्वारा चलाया जाता है।

BTC Course Eligibility

यदि कोई भी इस कोर्स को करना चाहता है, तो उनके लिए कुछ महत्वपूर्ण बात है जो उन्हें पूरी होनी चाहिए जिसके बारे में हम आपको बता रहे हैं कि आप इसे कहाँ प्राप्त कर सकते हैं।

  • बेसिक ट्रेनिंग सर्टिफिकेट (BTC) का कोर्स 2 साल का है।

  • इस कोर्स को करने के लिए उम्मीदवार की आयु 21 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।

  • उम्मीदवार का हाईस्कूल और इंटरमीडिएट पास होना जरूरी है।

जैसा कि मैंने पहले उल्लेख किया है, यह एक प्रमाणन कार्यक्रम है. स्नातक इस पाठ्यक्रम को आगे बढ़ाने के लिए पात्र हैं. तो तकनीकी रूप से, यह एक स्नातकोत्तर (स्नातकोत्तर) स्तर का पाठ्यक्रम है. इसके मूल में, यह एक शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम है।

शिक्षक प्रशिक्षण के बारे में क्या है, आप पूछ सकते हैं. कुशल शिक्षक प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से एक राष्ट्र के विकास में योगदान करते हैं. उन्हें अगली पीढ़ी के इंजीनियरों, डॉक्टरों, राजनेताओं, नौकरशाहों, वैज्ञानिकों, लेखकों, पत्रकारों, रक्षा कर्मचारियों आदि को विकसित करने का काम सौंपा जाता है।

वे छात्रों के समुचित विकास के लिए जिम्मेदार हैं। शिक्षक अपने शिष्य के शैक्षणिक विकास और व्यक्तित्व विकास दोनों का ध्यान रखते हैं। छात्रों का सर्वांगीण विकास - एक अच्छा शिक्षक अपने कैरियर के दौरान इस कार्य को पूरा करता है. शिक्षण एक चुनौतीपूर्ण पेशा है. कुछ छात्रों को प्रबंधित करना बहुत मुश्किल हो सकता है. साथ ही, युवा छात्रों को पोषण देने से उन्हें मानसिक संतुष्टि भी मिलती है. इस पेशे में कामयाब होने के लिए, निम्नलिखित लक्षणों के पास होना चाहिए - सकारात्मक व्यक्तित्व, धैर्य, आत्मविश्वास, विभिन्न प्रकार के छात्रों से निपटने की क्षमता, शिक्षण कौशल आदि।